शनिवार और मंगलवार को करे ये उपाय, दूर होंगी परेशानिया!

Source google image
हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार शनिदेव व भगवान हनुमान की आराधना से दुनिया का हर सुख प्राप्त किया जा सकता है। जहां शनि अच्छे कर्मों का फल देकर भक्त पर कृपा करते हैं, तो वहीं श्रीहनुमान की कृपा बल, बुद्धि, ज्ञान व सफलता के रूप में मिलती है।
शनिवार व मंगलवार शनि और हनुमान दोनों ही देवताओं की भक्ति के विशेष दिन माने गए हैं। इस दिन कुछ विशेष उपाय करने से दोनों ही देवताओं की कृपा प्राप्त हो सकती है। जानिए शनिवार व मंगलवार को कैसे पाएं शनिदेव व हनुमानजी का आशीर्वाद-
1. शनिवार व मंगलवार को सुबह-शाम स्नान के बाद नवग्रह मंदिर में शनि व श्रीहनुमान की जल स्नान व विशेष सामग्रियों से पूजा करें।
2. पूजा में शनिदेव को गंध, अक्षत, फूल, तेल, तिल, काले वस्त्र तो श्रीहनुमान को सिंदूर, लाल चंदन, फूल, अक्षत व लाल वस्त्र चढ़ाएं।
3. शनिदेव को तिल के व्यंजन तो हनुमान को गुड़ के पकवान का भोग लगाएं।
4. शनिदेव व हनुमानजी के सरल मंत्रों का जाप कम से कम एक माला यानी 108 बार करें।
5. पूजा व मंत्र जाप के बाद हनुमानजी व शनिदेव की धूप व दीप आरती कर सफलता व सौभाग्य की कामना करें।
श्रीहनुमान ध्यान मंत्र
मनोजवं मारुततुल्यवेगं जितेन्द्रियं बुद्धिमतां वरिष्ठम्।
वातात्मजं वानरयूथ मुख्यं श्रीरामदूतं शरणं प्रपद्ये।।
हनुमान ध्यान मंत्र के बाद इन आसान हनुमान नाम मंत्रों का सुख-समृद्धि की कामना से स्मरण करें-
1. ॐ बलसिद्धिकाय नम:।
2. ॐ सर्वबन्धविमोक्त्रे नम:।
3. ॐ सर्वदु:खहराय नम:।
शनि स्मरण मंत्र
नीलाञ्जनं समाभासं रविपुत्रं विनायकम्।
छायामार्तण्ड सम्भूतं तं नमामि शनैश्चरम्।।
शनि स्मरण मंत्रों के बाद इन नाम मंत्रों का भी ध्यान करें सुख-सौभाग्य की कामना से करें-
1. ॐ दीनार्तिहरणाय नम:।
2. ॐ दैन्यनाशकराय नम:।
3. ॐ भानुपुत्राय नम:।
Jivan upyogi batain
Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s