क्या यही है कांग्रेस की राष्ट्रभक्ति की नई परिभाषा?

    क्या यही है कांग्रेस की राष्ट्रभक्ति की नई परिभाषा?केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार की सफलता से निराश और हताश कांग्रेस गहरे अवसाद से ग्रस्त है। पार्टी और उसके नेता यह समझ नहीं पा रहे हैं कि इस अवसाद की अवस्था में वो देश के समक्ष कैसे एक जिम्मेदार राजनीतिक दल की भूमिका …

Continue reading क्या यही है कांग्रेस की राष्ट्रभक्ति की नई परिभाषा?

Advertisements

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS)

                      राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघराष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का ध्वजसंस्थापकडॉ॰: केशव बलिराम हेडगेवारप्रकार: स्वैच्छिक,[1] अर्द्धसैनिक[2]स्थापना वर्ष: विजयदशमी 1925कार्यालय: नागपुरअक्षांश-रेखांश: 21°02′N 79°10′E / 21.04°N 79.16°Eमुख्य लोग: सरसंघचालक मोहन भागवतसेवाक्षेत्र: भारतविशेष ध्येय: हिन्दू राष्ट्रवाद के सहायक और हिन्दू परम्पराओं को कायम रखनालक्ष्य:"मातृभूमि के लिए नि:स्वार्थ सेवा"तरीक़ा:समूह चर्चा, बैठकों और अभ्यास …

Continue reading राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS)

सरदार वल्लभभाई पटेल अगर होते देश के पहले वडाप्रधान तो देश होता कुछ और जानिए नेहरू से पटेल ज्यादा प्रभावसलि नेता थे।

                           भारत के स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी एवं स्वतन्त्र भारत के प्रथम गृहमंत्री थे। सरदार पटेल बर्फ से ढंके एक ज्वालामुखी थे। वे नवीन भारत के निर्माता थे। राष्ट्रीय एकता के बेजोड़ शिल्पी थे। वास्तव में वे भारतीय जनमानस अर्थात किसान की आत्मा थे।भारत की …

Continue reading सरदार वल्लभभाई पटेल अगर होते देश के पहले वडाप्रधान तो देश होता कुछ और जानिए नेहरू से पटेल ज्यादा प्रभावसलि नेता थे।

भारतीय राज्यव्यवस्था (Indian politics)

भारत की राजनीति संयुक्त संसदीय प्रतिनिधीय लोकतांत्रिक राज्य के ढांचे में ढली है, जहां पर प्रधानमंत्री सरकार का प्रमुख होता है और बहु-दलीय तंत्र होता है। शासन एवं सत्ता सरकार के हाथ में होती है। संयुक्त वैधानिक बागडोर सरकार एवं संसद के दोनो सदनों, लोक सभा एवं राज्य सभा के हाथ में होती है। न्याय मण्डल शासकीय एवं वैधानिक, दोनो से स्वतंत्र होता है। पर इस वक़्त लोकतंत्र से फॉरवर्ड बैकवर्ड …

Continue reading भारतीय राज्यव्यवस्था (Indian politics)

हम भारत के लोग कर्तव्य निभाए, राष्ट्र बनाए।

   नमस्कार आज 26/11 के दिन आपसे कुछ शेयर करना चाहते है हमारे देश के बारेमे देश के असली हीरो के बारेमे इस वर्ष सिमा पर लड़ते हुवे 35 जवान सहिद हुवे है पिछले 6 वर्ष सिमा पर लड़ते हुवे 252 जवानने अपना सर्वोच्च बलिदान दिया ये असली हीरो है।पर आज इस देश को मंथन …

Continue reading हम भारत के लोग कर्तव्य निभाए, राष्ट्र बनाए।