Suvichar

व्यवहार"जीवन मे आपसे कौन मिलेगा- ये समय तय करेगा. जीवन मे आप किससे मिलेंगे ये आपका दिल तय करेगा । पर जीवन मे आप किस किस के दिल में बने रहेगे यह आपका व्यवहार तय करेगा।".

Advertisements

Suvichar

जीवनजीवन को बदलने की.जरुरत नहीं है.जरुरत है केवल अपने अभिगम को बदलने की.-स्वामी रामतीर्थ

Suvichar

मृत्यु एवम् मोक्ष में क्या अंतर है?सुंदर जबाब"साँसे पूरी हो जाय और तमन्नायें बाक़ी रहे वह मृत्यु है.साँसें बाक़ी रहें और तमन्नायें पुरी हो जाय .वह मोक्ष है!".